कच्छयारी के समीप संत निरंकारी भवन में खुला कोविड केयर सेंटर

 

25 कोविड रोगियों को मिलेगी उपचार की सुविधा: पठानिया
धर्मशाला, 4 जून

वनमंत्री राकेश पठानिया ने कांगड़ा में कच्छयारी के नजदीक संत निरंकारी भवन में कोविड केयर सेंटर जनता को समर्पित किया। इस कोविड केयर सेंटर में 25 बेड की क्षमता है। इस अवसर पर वन एवं युवा खेल सेवाएं मंत्री राकेश पठानिया ने कहा कि राज्य सरकार कोविड से निपटने के लिए पूरी तरह से सजग और सतर्क है तथा राज्य में कोविड के उपचार के लिए आधारभूत संरचना तैयार की गई है।
      उन्होंने कहा कि कांगड़ा जिला में ही मेडिकल कालेज टांडा, जोनल अस्पताल धर्मशाला, नूरपुर अस्पताल, आयुर्वेदिक कालेेज पपरोला सहित निजी अस्पतालों में भी कोविड का उपचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिला में कोविड संक्रमितों के उपचार के लिए 1500 के करीब बेड क्षमता तैयार की गई है इसमें आक्सीजन तथा आक्सीजन कंस्ट्रेटर भी उपलब्ध करवाए गए हैं ताकि किसी भी स्तर पर कोविड रोगियों के उपचार में कोई कमी नहीं रहे। उन्होंने कहा कि राधा स्वामी सत्संग ब्यास में भी 15 दिनों में ही कोविड मेकशिफ्ट हास्पीटल तैयार किया गया है जहां पर उपचार की सुविधा आरंभ हो चुकी है। वन मंत्री राकेश पठानिया ने कहा कि सरकार के साथ साथ स्वयंसेवी संस्थाएं भी कोविड से निपटने के लिए अपना रचनात्मक सहयोग सुनिश्चित कर रही हैं। उन्होंने संत निरंकारी संस्था का भी आभार व्यक्त करते हुए कहा कि संस्था के सेवादारों ने कोविड से निपटने में विभिन्न प्रकल्पों के माध्यम से अपना रचनात्मक सहयोग दिया है। उन्होंने कहा कि कोविड की तीसरे लहर से निपटने के लिए भी राज्य सरकार ने तैयारियां पूर्ण कर ली हैं।
    उन्होंने कहा कि लोगों को कोविड प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखते हुए सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग, हाथों को बार बार धोने के लिए तत्पर रहना चाहिए। वन मंत्री राकेश पठानिया ने कहा कि खांसी, जुकाम इत्यादि के लक्षण होने पर तुरंत कोविड टेस्ट करवाना सुनिश्चित करें इसके साथ ही किसी भी स्तर पर घरेलू उपचार में समय व्यर्थ नहीं करें तुरंत चिकित्सकों के निर्देशों के अनुसार ही उपचार प्रारंभ करें ताकि संक्रमण को प्रारंभिक तौर पर ही फैलने से रोका जा सके। उन्होंने कहा कि होम आईसोलेशन में कोविड संक्रमितों की भी उचित देखभाल सुनिश्चित की जा रही है तथा होम आईसोलेशन किटस भी वितरित की जा रही हैं ताकि कोविड संक्रमितों को स्वास्थ्य लाभ मिल सके। इस अवसर पर उपायुक्त राकेश प्रजापति, सीएमओ डा गुरदर्शन, एसडीएम अभिषेक वर्मा, अरण्यपाल प्रदीप ठाकुर, डीएफओ डा संजीव कुमार सहित संत निरंकारी संस्था के पदाधिकारी भी उपस्थित थे।
Spread the love