डीसी राकेश प्रजापति का तबादला रुकवाने के लिए लामबंद हुए पंचायत प्रतिनिधि


कहा अगर उपायुक्त का तबादला किया तो सरकार के खिलाफ करेंगे प्रदर्शन
16 जून। धर्मशाला
जिला कांगड़ा के तेजतर्रार उपायुक्त राकेश प्रजापति के तबादले की खबरों के बीच पंचायत प्रतिनिधियों ने उनके तबादले को लेकर विरोध जता दिया है। पंचायती राज प्रतिनिधियों ने उपायुक्त राकेश प्रजापति का तबादला रोके जाने को लेकर मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर को ज्ञापन सौंपा है। भड़ियाड़ा के जिला परिषद सदस्य जोगिंदर सिंह पंकु के नेतृत्व में पंचायत प्रतिनिधियों ने एडीसी के माध्यम से सरकार को ज्ञापन प्रेषित किया। पंचायत प्रतिनिधियों ने मांग की है कि उपायुक्त कांगड़ा का तबादला ना किया जाए। इनका कहना है कि जिस तरह से उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कांगड़ा जिला में कोरोना संक्रमण को रोकने में महत्वपूर्ण निभाई है, वह सराहनीय है। साथ ही कांगड़ा जिला को पूरे देश मे अलग पहचान दिलवाने के लिए भी राकेश प्रजापति ने मुख्य भूमिका निभाई है। इनका कहना है कि अगर राकेश प्रजापति का तबादला किया गया तो जिला के 90 फीसदी पंचायती राज सदस्य और पूर्व सदस्य सरकार का विरोध करेंगे। जिला परिषद सदस्य जोगिंदर सिंह पंकु ने कहा कि ऐसी खबरें आ रही हैं कि सरकार सभी उपायुक्तों के तबादले करने जा रही है। उन्होंने कहा कि राकेश प्रजापति ने जिस तरह से कोरोना काल मे काम किया है और जिस तरह वह लोगों से व्यक्तिगत रूप से जुड़े हैं वह कबीले तारीफ है। उन्होंने कहा कि उपायुक्त की कार्यशैली के कारण एक आम आदमी भी अपनी समस्या उनके पास लेकर का सकता है।

Spread the love