मंदिरों में कोविड प्रोटोकॉल की अनुपालना करें सुनिश्चित: डीसी


ज्वालामुखी मंदिर में व्यवस्थाओं का लिया जायजा, स्वच्छता का विशेष ध्यान रखने के दिए निर्देश
धर्मशाला, 18 जुलाई

उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने रविवार को ज्वालामुखी मंदिर में व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया तथा कोविड प्रोटोकॉल की अनुपालना सुनिश्चित बनाने के लिए मंदिर प्रशासन को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मंदिर में दर्शनों के लिए आने वाले श्रद्वालुओं को सामाजिक दूरी के साथ दर्शन करवाने की उचित व्यवस्था की जाए इस के साथ ही प्रवेश द्वारा सेनेटाइजर और मास्क की आवश्यक व्यवस्था भी जाए ताकि मंदिरों में श्रद्वालुओं के लिए कोविड से संबंधित आवश्यक दिशा निर्देशों के बारे में भी जानकारी दी जाए ताकि किसी भी स्तर पर कोविड संक्रमण नहीं फैल सके।
उन्होंने कहा कि मूर्तियों के आगे एक मिनट से अधिक श्रद्धालु खड़े नहीं हों , दर्शन के बाद मंदिर परिसर में नहीं रूकें। उन्होंने कहा कि मंदिर परिसर में हवन, भजन, विवाह और मुंडन संस्कार तथा जागरण की अनुमति नहीं होगी। मंदिर परिसर में श्रद्वालुओं को रात्रि ठहराव की अनुमति नहीं होगी।
उन्होंने कहा कि मंदिर में 65 वर्ष से अधिक आयु के लोगों व 10 वर्ष से कम आयु के बच्चों, गंभीर बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति तथा गर्भवती महिलाओं को जाने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि दिव्यांगों को दर्शन की सुविधा के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं। उन्होंने कहा कि मंदिर के नजदीक आइसोलेशन रूम स्थापित किया गया है। कोरोना संक्रमण के लक्षण वाले व्यक्ति को स्वास्थ्य कर्मी द्वारा कोरोना का सैंपल लिए जाने के उपरांत संक्रमित पाए गए व्यक्ति को आइसोलेट किया जाएगा।
उपायुक्त ने कहा कि मंदिर परिसर में स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जाए तथा कूड़ा कचरा प्रबंधन के लिए भी उचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि मंदिर के सौंदर्यीकरण के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे ताकि श्रद्वालुओं को बेहतर सुविधाएं प्रदान की जा सकें।

Spread the love